Monday , May 23 2022
Breaking News

कैश किल्लत पर जेटली ने किया गौर, हालात सुधरने में लगेगें दो-तीन दिन और

Share this

नई दिल्ली। देश में एक बार फिर कैश को लेकर लोगों को दिक्कतों से दो चार होना पड़ रहा है कयोंकि देश के कई बड़े राज्यों में इस वक्त कैश की किल्लत की खबरें आ रही हैं । इन्हीं दिक्कतों पर देर से सही पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अहम बयान दिया है। जेटली ने कहा है कि प्रचलन में पर्याप्त मुद्रा है और अस्थायी दिक्कतों को जल्दी ही दूर कर दिया जाएगा।

गौरतलब है कि पिछले एक पखवाड़े से बैंकों के एटीएम में नकदी नहीं रहने से लोग परेशान हैं और 2016 के नवंबर-दिसंबर महीने की नोटबंदी के बाद इसे  दूसरी नोटबंदी का नाम दे रहे हैं। वहीं जब पिछले दो दिनों में यह समस्या तब और गहरी हो गयी जब इसका हल ढूंढने के लिए वित्त मंत्रालय ने रिजर्व बैंक, बैंकों व राज्यों के साथ बैठक की। लोग नकदी नहीं रहने से काफी परेशान हैं और वे अपने जरूरी काम भी नहीं कर पा रहे हैं। देश के कई भागों में बैंकों में नकदी की तंगी की खबरों के बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज कहा कि करंसी स्थिति की समीक्षा की गई है। प्रचलन और बैंकों के पास पर्याप्त नकदी हैं। कुछ क्षेत्रों में अचानक आई दिक्कत को जल्दी ही दूर कर दिया जाएगा।

इससे पहले केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री एस पी शुक्ला ने कहा कि हमारे पास इस समय एक लाख 25 हजार करोड़ की नकदी है। कुछ राज्यों में नकदी की कमी हैं तो कुछ में यह अधिक है। सरकार ने राज्यवार समितियों का गठन किया है और रिजर्व बैंक ने भी एक राज्य से दूसरे राज्य को नकदी हस्तांतिरत करने के लिए समिति गठित की है। यह कार्य तीन दिन में पूरा हो जाएगा।  देश के कई हिस्सों में बैंकों के पास नकदी की दिक्कत है। एटीएम में पैसा नहीं होने से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वैवाहिक सीजन साथ ही स्कूलों का भी सीजन होने के अलावा लोगों के लिए कैश न होने के चलते तमाम दिक्कतें आ रही हैं।

Share this
Translate »