Tuesday , November 30 2021
Breaking News

बसपा नेत्री के जुलूस में पकिस्तान जिन्दाबाद पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज

Share this

बरेली।  बसपा नेत्री व नवाबगंज नगरपालिका चेयरपर्सन शहला ताहिर ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाकर मुश्किलों में घिर गई हैं। आखिरकार यह वीडियो की जांच में साबित हो गया है कि विजय जुलूस के दौरान ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाए गए थे। जिसके बाद पुलिस ने शहला ताहिर और उनके पति डॉ. ताहिर समेत 500 अज्ञात लोगों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया है।
नवाबगंज नगरपालिका के चुनाव और मतगणना में जमकर बवाल हुआ था, जिसके बाद शहला ताहिर और उनके समर्थकों पर एफआईआर दर्ज की गई थी। गिरफ्तारी से बचने के लिए शहला ताहिर फरार हो गई थी और हाईकोर्ट से गिरफ्तारी पर स्टे लेकर ही वो नवाबगंज लौटी थी।
गौरतलब है कि 23 दिसंबर को जिले के मुख्य बाजार में शहला ताहिर ने विजय जुलूस निकाला था। इसमें ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाए गए थे। नारेबाजी का वीडियो वायरल हो गया, जिसके बाद हिंदूवादी संगठनों और बीजेपी नेताओं ने विरोध जताया था और थाने पहुंच कर मुकदमा दर्ज कराने की मांग की थी।
वहीं इस मामले पर शहला ताहिर का कहना था कि विपक्षियों ने इस वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर इस सोशल मीडिया पर डाल दिया है। उन्होंने कहा कि मुझे गलत तरीके से फंसाया जा रहा है। भाजपाई सत्ता का दुरुपयोग कर रहे हैं। मेरे विजय जूलूस के वीडियो के साथ छेड़छाड़ की गई है। ऐसा करके मुझे शपथ ग्रहण से रोकने की साजिश रची जा रही है।
बता दें कि शहला ताहिर अभी तक चेयरमैन पद की शपथ भी नहीं ले पाई हैं क्योंकि फरार होने के कारण जिलाधिकारी ने उनके शपथ लेने पर रोक लगा दी थी। बीजेपी जिलाध्यक्ष के भाई ने शहला ताहिर पर पीलीभीत से भी फरार होने का आरोप लगाया है। इन मसलों में उलझे होने के कारण शहला ताहिर की अभी तक शपथ नहीं हो पाई है।

Share this
Translate »