Sunday , September 25 2022
Breaking News

हम कहां जा रहे हैं, कैसा समाज बना रहे हैं: राष्ट्रपति

Share this

श्रीनगर । जम्मू-कश्मीर के कठुआ में बच्ची के साथ हुए गैंगरेप और फिर हत्या मामले में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दुख व्यक्त करते हुए कहा कि यह बेहद शर्मनाक है. हम कहां जा रहे हैं, कैसा समाज बना रहे हैं। एक तरफ जहां कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की बेटियां अपना वर्चस्व दिखा रहीं हैं। आज दुनिया भारतीय बेटियों का लोहा मान रही है, लेकिन हम कुछ नहीं कर पा रहे हैं ।

जम्मू-कश्मीर में श्री माता वैष्णों देवी यूनिवर्सिटी के छठें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कोविंद ने कहा कि कठुआ में बच्ची के साथ जो कुछ भी हुआ उसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है।. साथ ही उन्होंने कहा कि आजादी के 70 साल बाद भी अगर देश के किसी हिस्से में इस तरह की घटना होती है तो यह बेहद शर्मनाक है. हम कहां जा रहे हैं, कैसा समाज बना रहे हैं ।

आगे उन्होंने कहा कि कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की बेटियां अपना वर्चस्व दिखा रहीं हैं । आज दुनिया भारतीय बेटियों का लोहा मान रही है, लेकिन हम कुछ नहीं कर पा रहे हैं । अपने संबोधन के दौरान कोविंद ने मैरी कॉम, मनिका, सानिया नेहवाल, पीवी सिंधु के नामों की चर्चा की ।

ज्ञात हो कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बुधवार को अपने दो दिवसीय दौरे पर जम्मू-कश्मीर की शीतकालीन राजधानी जम्मू पहुंचे । यह जम्मू का उनका पहला दौरा है। उनके साथ प्रथम महिला सविदा कोविंद भी यहां पहुंची। यहां टेक्निकल हवाईअड्डे पर राज्यपाल एन एन वोहरा , मुख्यमंत्री मेहबूबा मुफ्ती , विधान परिषद् के प्रमुख हाजी अनायत अली ने राष्ट्रपति का स्वागत किया। उपमुख्यमंत्री निर्मल सिंह और राजस्व मंत्री अब्दुल रहमान वीरी भी राष्ट्रपति के स्वागत के लिए यहां पहुंचे थे।

कटरा में श्री माता वैष्णो देवी यूनिवर्सिटी के छठे दीक्षांत समारोह में राष्‍ट्रपति ने 880 विद्यार्थियों को मेरिट प्रमाण-पत्र और डिग्रियां दी।  इस मौके पर भारती एंटरप्राइजेज के अध्यक्ष भारती मित्तल और मुंजल ऑटो इंजीनियिरंग लिमिटेड के अध्यक्ष सह महाप्रबंधक सुधीर मुंजल को एसएमवीडीयू द्वारा डॉक्टोरेट की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया. कोविंद को सम्मानित किए जाने के लिए आज शाम में अमर महल लॉन्स में एक स्वागत समारोह आयोजित किया जाएगा।  इसके साथ ही राष्ट्रपति जम्मू-कश्मीर उच्च न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश रामालिंगम सुधाकर और अन्य न्यायाधीशों से भी मुलाकात करेंगे ।

 

Share this
Translate »