Tuesday , August 16 2022
Breaking News

विक्षिप्त मानसिकता का जल्द ढूंढे तोड़, बनती जा रही ये समाज का कोढ़

Share this

इंदौर: 8 माह की बच्ची से दरिंदगी के बाद हत्या

इंदौर। विक्षिप्त मानसिकता का जल्द ही ढूंढना होगा तोड़, क्योकि यह हमारे सभ्य समाज के लिए बनती जा रही है कोढ़। जी यह वह हकीकत है जो उन तमाम घटनाओं से न सिर्फ हमारे दिल को दहलाती है साथ ही ऐसी मानसिकता के लोग किस कदर वहशी दरिंदे है यह भी बतलाती है। जैसा कि आज एक वाकिया मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में आया है उसने वाकई इंसान तो इंसान बल्कि हैवान को भी दहलाया है। सोचिए किस कदर सनकी और विक्षिप्त रहा होगा वह दरिंदा जिसने उस नन्ही परी जो कि अभी कुछ ही महीने की थी उसके साथ ऐसे घिनौने कृत्य को अंजाम दिया इतना ही नही उसका जीवन भी छीन लिया।

गौरतलब है कि देश में आए दिन मासूम बच्चियों के साथ बलात्कार की घटनाएं सामने आ रही हैं। ताजा मामला इंदौर का है। जहां 8 महीने की एक मासूम को दरिंदों ने अपनी हवस का शिकार बनाया और फिर बड़ी बेरहमी से उसकी हत्या कर दी।

वारदात का खुलासा तब हुआ जब राजवाड़ा क्षेत्र के शिव विलास पैलेस के बेसमेंट से बच्ची की लाश मिली। बच्ची की लाश मिलने से इलाके में हड़कंप मच गया। इलाके के लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

जानकारी के मुताबिक, बच्ची की शॉर्ट पीएम रिपोर्ट में रेप की पुष्टि हुई है। 8 महीने की मासूम के साथ हुई इस घटना के बाद से ही इलाके के लोग गुस्से में है। तनाव की स्थिति को देखते हुए इलाके में भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात किया गया है।

पुलिस के मुताबिक, राजवाड़ा क्षेत्र के शिव विलास पैलेस के बेसमेंट में एक मासूम की लाश मिली थी। जिसकी उम्र तकरीबन एक साल बताई जा रही है। मासूम के शरीर और सिर पर चोटों के कई निशान थे।

जानकारी के मुताबिक, बेसमेंट के दुकानदार जब सुबह दुकान खोलने पहुंचे तो उन्होंने देखा कि सीढ़ी के नीचे बच्ची की लाश पड़ी है। इसके बाद दुकानदारों ने पुलिस को इसकी सूचना दी।

मामले को लेकर इंदौर के डीआईजी ने बताया कि शुरुआत में पुलिस ने परिवार के एक परिचित को हिरासत में लिया लेकिन बाद में छोड़ दिया। इसके बाद परिवार के एक संदिग्ध रिश्तेदार को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया है, जो रिश्ते में पीड़िता का अंकल लगता है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी की पीड़िता के मां से कहासुनी हो गई थी, इस वजह से उसने ऐसा किया। साथ ही पुलिस ने वहां लगे सीसीटीवी कैमरे की मदद से जांच कर खून से सने कपड़े और साइकिल भी बरामद कर ली है।

ज्ञात हो कि बच्ची के साथ हुई हैवानियत की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कड़ी निंदा की है और इस मामले में आरोपियों को सख्त सजा की वकालत की है।

Share this
Translate »