Monday , October 18 2021
Breaking News

कोर्ट कैंपस में सरेआम तलवार से पत्नी को काटा

Share this

नई दिल्ली। लोगों पर किस कदर हैवानियत का हो चुका है असर इसका अंदाजा हाल की उन तमाम घटनाओं से जब तब मिलता ही रहता है। इसी क्रम में आज देश के उड़ीसा राज्य में एक ऐसी दिल दहलाने वाल घटना सामने आई है जिससे एक पल को आपकी रूह भी कांप उठेगी।

गौरतलब है कि ओडिशा के संबलपुर से दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। यहां  कोर्ट के परिसर में एक व्यक्ति ने पहले तलवार लेकर पत्नी को दौड़ाया औऱ उसके बाद सबके सामने उसे काट डाला। यही नहीं उसने अपनी सास और भतीजी को भी जख्मी कर दिया। इसके बाद वहां मौजूद लोगों ने बड़ी मशक्कत के बाद उसे धर दबोचा और जमकर धुनाई की।  हालांकि पुलिस ने आरोपी रमेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया है और साथ ही उसकी तलवार को भी जब्त कर लिया है।

सोमवार की दोपहर हुए इस मामले को लेकर पुलिस का कहना है कि रमेश ने कोर्ट कैंपस में 18 वर्षीय पत्नी संजीता चौधरी पर तलवार से अचानक हमला कर दिया। इस दौरान उसने अपनी सास ललिता चौधरी और ढाई साल की भतीजी को भी जख्मी कर दिया। उसके ससुर की किस्मत अच्छी थी कि वह इस हमले में किसी तरह बच निकलने में कामयाब रहे।

दरअसल, संजीता और रमेश ने प्रेम विवाह किया था। पिछले साल वह (संजीता) रमेश से शादी करने के लिए अपने घर से भाग गई थी और कई महीने दोनों साथ-साथ रहे। बाद में पति द्वारा उत्पीड़न करने पर वह बेहद परेशान हो गई और अपने मायके लौट आई। सोमवार को वह अपने मां-बाप के साथ अपने पति से समझौता करने अदालत पहुंची थी। वहीं, रमेश ने अपनी पत्नी को वापस लाने के लिए फैमिली कोर्ट में याचिका डाली थी।

माना जा रहा है कि पत्नी पर हमला करने के लिए रमेश ने पहले से ही पूरी योजना बना रखी थी। पुलिस के मुताबिक, जैसे ही संजीता मां-बाप के साथ कोर्ट कैंपस में पहुंची, रमेश ने तलवार से उस पर अटैक कर दिया। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि संजीता ने खुद को बचाने की पूरी कोशिश की और अदालत की बिल्डिंग के पीछे छुप गई, लेकिन रमेश ने उसका पीछा करना नहीं छोड़ा। उसने संजीता को वहां से खींचकर तलवार से हमला किया। इसके बाद रमेश ने अपने ससुर सुदन चौधरी पर भी हमले करने की कोशिश की, लेकिन वह संबलपुर तहसील दफ्तर के कमरे में घुसकर अपनी जान बचाने में कामयाब रहे।

उसकी भतीजी संजीता, उसकी मां और उसकी भतीजी को संबलपुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। संजीता की हालत बिगड़ने के बाद उसे बुर्ला स्थित अस्पताल में ले जाया गया, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। संबलपुर के सब-डिविजनल पुलिस अधिकारी मिहिर पांडा ने बताया कि रमेश को गिरफ्तार कर लिया गया है और उसके हथियर को भी जब्त कर लिया गया है।

 

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »