Thursday , October 21 2021
Breaking News

प्रोडक्ट वारंटी कानून का उल्लंघन करने पर 6 बड़ी इलैक्ट्रोनिक्स कम्पनियों को FTC का नोटिस

Share this

नई दिल्ली। वारंटी में होते हुए भी महज एक स्टीकर लगाकर ग्राहकों को बेवकुफ बना अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ने पर अमरीकी सरकारी एजेंसी फैडरल ट्रेड कमिशन (FTC) ने 6 सबसे बड़ी इलैक्ट्रोनिक्स कम्पनियों को प्रोडक्ट वारंटी को लेकर कानून का उल्लंघन करने पर नोटिस जारी किए हैं।

गौरतलब है कि अमरीकी सरकारी एजेंसी फैडरल ट्रेड कमिशन (FTC) ने इनमें लिखा है कि ये कम्पनियां किसी भी रिपेयर शॉप से प्रोडक्ट को ठीक करवाने पर बाद में वारंटी में होते हुए भी उन्हें ठीक करने से इनकार करती हैं। एनगैजेट की रिपोर्ट के मुताबिक इन कम्पनियों में Sony, Microsoft, Nintendo, Hyundai, HTC और कम्पयूटर हार्डवेयर निर्माता ASUS भी शामिल है।

दरअसल इन कम्पनियों ने चालाकी बरतते हुए अपने प्रोडक्टस पर स्टीकर लगाए हुए हैं जिन पर “Third-party repairs voids the warranty” लिखा है। जिसका मतलब है कि अगर आप कम्पनी के ऑफिशियल स्टोर से बाहर किसी भी रिपेयर सैंटर से कुछ भी छोटी-मोटी समस्या को ठीक करवाते हैं तो इसकी वारंटी खत्म हो जाती है। जोकि बिल्कुल अवैध है।

इतना ही नही सभी कम्पनियों को नोटिस FTC के एसोसिएट डायरैक्टर ऑफ मार्केटिंग प्रैक्टिसिस  Lois Greisman द्वारा सैंड भेजे गए हैं। इस नोटिस में हर एक कंम्पनी को 30 दिनों का समय दिया गया है जिसमें वह अपनी वारंटी पालिसीज़ को बदल सकती हैं और अगर ऐसा नहीं किया जाता तो कम्पनियों पर लीगल एक्शन लिया जाएगा।

बेहद अहम और गौर करने वाली बात है कि कम्पनियों को दिए गए इस नोटिस में लिखा है कि प्रोडक्ट को खरीदते समय निर्धारित की गई समय अव्धि में ग्राहक के खराब प्रोडक्ट को ठीक करना कम्पनी का फर्ज है लेकिन यह कम्पनियां बड़ी चालाकी से अपने प्रोडक्टस पर एक स्टीकर व सील लगा कर ग्राहकों को मूर्ख बना रही हैं।

जैसा कि कम्पनियों ने अपने प्रोडक्ट पर लगे नट बोल्ट व पेच पर वारंटी वोयड लिखा है जिस को रिमूव करने पर कम्पनी को बहाना मिल जाता है कि यह प्रोडक्ट कहीं और से रिपेयर है जिस वजह से कम्पनी इसे ठीक नहीं करती है।

इसी प्रकार अगर देखें तो सोनी ने अपने PlayStation 4 पर छोटा स्टीकर लगाया हुआ है जिस पर लिखा है कि इसे हटाने से वारंटी खत्म हो जाएगी जो पूरी तरह से अवैध है। वहीं माइक्रोसॉफ्ट ने Xbox One पर लिखा है कि बाहर से रिपेयर करवाने पर उसकी व उसकी एक्सैसरी की वारंटी शुन्य रह जाएगी।

FTC ने दावा किया है कि ये 6 कम्पनियां 1975 Magnuson-Moss Warranty Act का उल्लंघन कर रही है। मदरबोर्ड वैबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक इसमें लिखा है कि कोई भी प्रोडक्ट निर्माता वारंटी होने पर प्रोडक्ट को ठीक करने के लिए 5 डॉलर से ज्यादा पैसे नहीं ले सकता है।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »