Monday , September 27 2021
Breaking News

क्लीन शेव पुरुष एवं अविवाहित महिलाएं तीर्थयात्रा में नहीं जा सकेगें पाकिस्तान

Share this

अमृतसर! अब क्लीन शेव सिख और अविवाहित महिलाएं तीर्थयात्रियों के समूह में पाकिस्तान नहीं जाएंगे. इसकी घोषणा खुद सिख संगठनों के नेताओं ने की है. यह निर्णय विगत दिनों एक महिला के पाकिस्तान जाने के बाद वहीं इस्लम कबूल कर लेने और रह जाने के बाद लिया गया है. सिखों के धार्मिक समूहों ने फैसला किया है कि भविष्य में पाकिस्तान जाने वाले तीर्थ यात्राओं में अविवाहित महिला (उम्र 15 से 50 साल) और क्लीन शेव रखने वाले सिखों को शामिल नहीं किया जाएगा.

कहा जा रहा है कि अप्रैल में पाकिस्तान गए सिखों के जत्थे में शामिल दो तीथज़्यात्रियों ने नियम तोड़े थे, इसी को देखते हुए इस तरह का फैसला लिया गया है. पाकिस्तान की तीथज़्यात्रा पर लोगों को ले जाने वाले ननकाना साहिब सिख तीर्थ यात्री जत्था, भाई मदानज़ यादगागी कीर्त दरबार सोसाइटी, सैन मियां मीर इंटरनैशनल फाउंडेशन, हरियाणा गुरधाम कमिटी, खालरा मिशन कमिटी और जम्मू-कश्मीर सिख यात्रा कमिटी ने इस मामले पर मीटिंग की और यह फैसला लिया गया.

ननकाना साहिब सिख तीर्थ यात्री जत्था के अध्यक्ष स्वर्ण सिंह गिल ने बताया है कि 8 जून को गुरु अर्जन देव के शहीद दिवस पर दो सिख जत्थे पाकिस्तान जा रहे हैं. इसी महीने में महाराजा रंजीत सिंह की भी पुण्यतिथि है. पाकिस्तान के शरणार्थी संपत्ति ट्रस्ट बोर्ड ने हमें पहले बता दिया है कि अविवाहित महिलाओं और गैर-सिखों को जत्थे में शामिल ना किया जाए. हमने इसी के हिसाब से फैसला किया है.

आपको बता दें कि अप्रैल महीने में बैसाखी के मौके पर पाकिस्तान गए जत्थे में शामिल एक महिला किरण बाला ने इस्लाम कबूल कर लिया था और एक पाकिस्तानी नागरिक से शादी कर ली थी. एक और तीर्थयात्री अमरजीत बीच यात्रा से ही गायब हो गए थे. बाद में अमरजीत को भारत भेज दिया गया था.

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »