Monday , October 3 2022
Breaking News

मुंबई वालों ने पहले ठगा, फिर गंदी-गंदी फिल्में बनवायी

Share this

पटना! बिहार के सीतामढ़ी जिले का रहने वाला एक युवक फिल्म जगत में ठगी का शिकार हुआ है. अकसर युवा लोगों में हीरो और फिल्म जगत के चकाचौंध में खो जाते हैं. कभी-कभी ऐसा होता है कि इस चकाचौंध को पाने के लिए कई युवक अपना सबकुछ दांव पर लगा देते हैं. ऐसा ही कुछ सीतामढ़ी के एक युवक के साथ हुआ है. युवक को माया नगरी मुंबई लेकर गए फिल्म निर्माताओं ने हीरो बनाने की बात कही. और उससे रुपये भी ठगे लेकिन बाद में उससे गंदी फिल्म बनाकर उसे बंधक बनाकर रखा. एक महिला समाजसेविका के प्रयास से युवक को उनलोगों के चंगुल से निकाला गया. युवक ने आरोप लगाया है कि फिल्म निर्माता ने उन्हें हीरो बनाने के लिए मुंबई लेकर गए थे. जहां उन्होंने मानसिक और शारिरिक रूप से प्रताड़ित किया और बाद में उससे गंदी-गंदी फिल्में बनवायी. इस घटना के बाद से वह काफी आहत है. उसका करियर भी अब खतरे में दिख रहा है.

युवक ने बताया वह फेसबुक के जरिए मुंबई के एक फिल्म निर्माता अनिश राव से संपर्क में आया था. अनिश ने उसे फिल्म में काम करने का ऑफर दिया. युवक ने सोचा कि उसके करियर के लिए यह अच्छा ऑफर है. इससे वह अपने परिवार की बदहाली को दूर कर सकता है. उसने बताया कि फिल्म निर्माता के आदमी उसके घर आये थे और कुछ दिन तक उसके घर में रहे. उसके पिता ने जमीन बेच कर 9 लाख रुपये दिए और फिर बाद में 6 लाख रुपये दिये थे.

फिल्म निर्माताओं ने परिवार को भरोसा दिलाया कि युवक को हीरो बनाया जाएगा. और फिल्म निर्माण के लिए उससे अनुबंध भी किया जाएगा. लेकिन जब वह मुंबई पहुंचा तो उससे किसी भी तरह का अनुबंध नहीं कराया गया. पैसे देने के बाद भी फिल्म में काम करने का मौका नहीं दिया गया. उससे जबरन गंदी फिल्म बनाने के लिये मजबूर किया गया. जब उसने पुलिस से शिकायत की बात कही तो उन लोगों ने उसे बंधक बनाकर रखा. साथ ही मानसिक और शारिरिक रुप से प्रताड़ित किया. हालांकि एक महिला समाजसेविका ने उसे फिल्म निर्माता के पास से बंधक मुक्त कराया. इसके अलावा उसे सीतामढ़ी लेकर आयी और पुलिस से शिकायत की. अब सूरज पुलिस से न्याय की गुहार लगा रहा है.

Share this
Translate »