Tuesday , August 16 2022
Breaking News

देश के सबसे गंदे रेलवे स्टेशनों की सूची में PM मोदी का वाराणसी भी शामिल

Share this

नई दिल्ली। वैसे पहले तो ये ही बेहद शर्मनाक और खेदजनक है कि देश में दस ऐसे रेलवे स्टेशन हैं जो बेहद गन्दे हैं उस पर और भी शर्मनाक तब हो जाता है कि देश के प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र का स्टेशन भी उसमें न सिर्फ शामिल हो बल्कि चौथे नंबर पर हो। हालांकि पूर्व में जब देश के सबसे गंदे शहराें की जारी लिस्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी काे तीसरे नंबर पर जगह मिली थी। जिसे वाराणसी के लाेगाें ने शर्मनाक बताया था।

गौरतलब है कि अब देश के टॉप-10 गंदे रेलवे स्टेशनों की सूची जारी की गई है। जिसमें वाराणसी काे चाैथा स्थान मिला है। दरअसल यात्रियों से बातचीत के आधार पर भारतीय रेलवे द्वारा कराए गए एक सर्वे में इसका खुलासा हुआ है। कानपुर सेंट्रल रेलवे देश का सबसे गंदा रेलवे स्टेशन है। इसके अलावा देश से 10 सबसे गंदे रेलवे स्टेशनों में मुंबई के 3 रेलवे स्टेशन शामिल हैं। भारतीय रेलवे ने 11 मई से 17 मई के बीच यह सर्वे किया। इसमें मुंबई का कल्याण तीसरा, लोकमान्य तिलक टर्मिनस 5वां और ठाणे 8वां सबसे गंदा स्टेशन बताया गया।

वहीं कानपुर को सबसे ज्यादा 61.6 फीसदी लोगों ने गंदा स्टेशन बताया। इसके बाद पटना जंक्शन का नंबर था, जिसे 60.16 फीसदी लोगों ने बेहद गंदा बताया। प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी लिस्ट में 56 फीसदी मतों के साथ चौथे नंबर पर रहा। इसके अलावा इलाहाबाद छठा, पुरानी दिल्ली 7वां, लखनऊ 9वां और चंडीगढ़ को 10वां सबसे गंदा स्टेशन करार दिया गया।

जबकि मुंबई के एलटीटी, ठाणे और कल्याण स्टेशनों से रोजाना लंबी दूरी की करीब 90 और 572 लोकल ट्रेनें चलती हैं। सिर्फ कल्याण स्टेशन से ही रोजाना करीब 2 लाख 15 हजार यात्री सफर करते हैं।
यहां कराए गए सर्वे में 58.74 फीसदी यात्रियों ने साफ सफाई को लेकर नाराजगी जाहिर की है। एलटीटी और ठाणे में भी 55 फीसदी से ज्यादा यात्री साफ सफाई को लेकर खुश नहीं दिखे। यात्रियों की सुविधाओं में सुधार के लिए रेलवे इस तरह का सर्वे कराती है। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक लोगों की परेशानी को देखते हुए स्टेशन परिसरों को ज्यादा साफ सुथरा बनाने की कोशिश जारी है।

Share this
Translate »