Sunday , July 3 2022
Breaking News

अदाणी से आगे निकला पतंजलि आयुर्वेद

Share this

नयी दिल्ली! बाबा रामदेव के नेतृत्व वाली कंपनी पतंजलि आयुर्वेद ने कर्ज बोझ तले दबी रुचि सोया के अधिग्रहण के लिये अपनी बोली राशि बढ़ा दी है. पतंजलि ने इस संबंध में अपनी संशोधित पेशकश को ऋणदाताओं की समिति को भेज दी है. सूत्रों ने बताया कि पतंजलि की ओर से पेश की गई नई बोली अदाणी समूह की बोली से 30 प्रतिशत ऊंची है. अदाणी समूह भी रुचि सोया के अधिग्रहण की दौड़ में है. अदाणी समूह ने अधिग्रहण के लिये करीब 3,300 करोड़ रुपये की बोली लगाई है.

सूत्रों ने बताया कि पतंजलि के प्रतिनिधियों ने रुचि सोया के ऋणदाताओं से मुलाकात कर संशोधित बोली की पेशकश की है. पतंजलि ने ऋणदाताओं को यह भी आश्वासन दिया है कि वह कंपनी की स्थिति में सुधार के लिये अतिरिक्त पूंजी भी निवेश करेगी. हरिद्धार स्थित पतंजलि समूह रुचि सोया की अधिग्रहण दौड में सबसे आगे बना हुआ है. समझा जाता है कि कंपनी ने अधिग्रहण के लिये 4,000 करोड़ रुपये से अधिक की बोली लगाई है. रुचि सोया के ऋणदाताओं की समिति की बैठक कल हो रही है जिसमें बोली पर अंतिम निर्णय लिया जा सकता है.

Share this
Translate »