Friday , September 17 2021
Breaking News

World Menstrual Day: खून का बदला रंग इस बीमारी का हो सकता है संकेत!

Share this

मासिक धर्म या पीरियड्स महिलाओं की जिंदगी का एक अभिन्‍न हिस्‍सा है। यह महीने महिलाओं को कम से कम 6-7 दिनों तक परेशान करता है। जिस तरह महिलाओं को इस समय अलग-अलग परेशानी होती है उसी तरह उनके ब्लड का रंग भी अलग-अलग होता है लेकिन ज्यादातर महिलाओं को यह पता नहीं होता। उनके लिए खून यानि लाल रंग। मगर ऐसा नहीं है पीरियड्स के दौरान खून लाल, गुलाबी, भूरा, काला या संतरी रंग का भी हो सकता है। स्त्री रोग विशेषज्ञ मानते हैं कि पीरियड में खून के रंग के आधार पर महिला की अंदरुनी हेल्थ से जुड़ी बातों का पता चल सकता है। आज World Menstrual Day के मौके पर हम आपको यही बताने जा रहे हैं कि कौन-सा रंग किस बीमारी की ओर संकेत देता है।
1. पीरियड्स में साधारण लाल रंग का खून आना
अगर आपको पीरियड्स के दौरान साधारण लाल रंग का खून आ रहा है तो आप बिल्कुल स्वस्थ है। दरअसल, यह नया खून होता है जो कि शरीर से तुरंत निकलता है। इस तरह का खून हल्के लाल रंग का होता है जोकि हैवी ब्‍लीडिंग के साथ आता है।
2. पीरियड्स में गहरे भूरे रंग का खून आना
गहरे भूरा रंग का खून लंबे समय तक गर्भाशय में जमा होने जाने के बाद आता है। इस रंग का खून आना किसी इंफेक्शन की और इशारा करता है। इस रंग का खून आने के बाद आपको तेज पेट दर्द भी हो सकता है। अगर इसमें तेज बदबू आ रही है तो यह गंभीर स्थिति की ओर संकेत करता है। ऐसे में डॉक्टर से जांच जरूर करवाएं।
3. पीरियड्स में नारंगी या केसरी रंग का खून आना
अगर आपको पीरियड्स के सभी दिनों में नारंगी रंग का ब्लड फ्लो हो रहा हो तो इसे हल्के में मत लीजिए। यह किसी इंफेक्शन का संकेत हो सकता है।
4. पीरियड्स में गहरे लाल रंग के थक्के आना
अगर आपके पीरियड ब्लड का रंग हगरा लाल है तो यह हॉर्मोनल असंतुलन के कारण हो सकता है। पीरियड्स के दौरान यूटेरस के अंदर जमी परत निकल जाने के कारण सामान्य आकार के थक्के तो खून में होते हैं लेकिन इनका काफी बड़े आकार में होना खतरनाक है। हॉर्मोनल असंतुलन के साथ गहरे लाल रंग के थक्के निकलना ओवेरियन सिस्ट का संकेत भी हो सकते हैं। ऐसे में आपको डॉक्टर से चेकअप जरूर करवाना चाहिए।
5. पीरियड्स में गुलाबी रंग का खून आना
अगर आपको पीरियड के दौरान गुलाबी लाल रंग का खून आता है तो यह एस्ट्रोजन लेवल कम होने का संकेत हैं। ऐसा पोष्टिक आहार न लेने के कारण होता है। इसके लिए आप हैल्दी भोजन के साथ आयरन फूड्स का ज्यादा सेवन करना चाहिए।
6. पीरियड्स में ग्रे या काले रंग का खून आना
इस रंग का खून आना महिलाओं के लिए बहुत ही सीरियस प्रॉब्लम है। काले रंग का पीरियड फाइब्रॉयड और एन्‍डोमीट्रीओसिस जैसी बीमारियों का संकेत देता है। ज्यादातर इस रंग के पीरियड्स कामकाजी महिलाओं को आते हैं। क्योंकि एन्‍डोमीट्रीओसिस वर्किंग वुमन्स से जुड़ी एक समस्या है। जब यूटेरस के अंदर रहने वाली एंडोमीट्रियल कोशिकाएं उसके बाहर पनपने लगती हैं तो महिला को तेज दर्द भी होने लगता है। ऐसे में आपको तुरंत चेकअप करवाना चाहिए।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »