Sunday , September 25 2022
Breaking News

दो होटल की भीषण आग में पांच की मौत, मालिकों के खिलाफ मुकदमा हुआ दर्ज

Share this

लखनऊ। प्रदेश की राजधानी के सबसे व्यस्ततम क्षेत्र चारबाग में आज तड़के  दो होटलों को भीषण आग ने अपने चपेट में ले लिया। जिससे 5 लोगों की मौत हो गई है जबकि आधा दर्जन से अधिक बुरी तरह झुलसे हैं। हालांकि इस वीभत्स और लोमहर्षक घटना पर दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 2-2 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान किया है। साथ ही घायलों के लिए पचास हजार रुपये सहायता राशि की घोषणा की।

मिली जानकारी के मुताबिक राजधानी के चारबाग स्थित एसएसजे इंटरनेशनल होटल में आज तड़के  शॉर्ट सर्किट से अचानक आग लग गई। थोड़ी ही देर में आग ने विकराल रूप ले लिया जिसके चलते  बगल का होटल विराट भी चपेट में आ गया। आग की लपटों के बीच होटल में अफरातफरी के बीच भगदड़ मच गई। जिस समय घटना हुई 50 से 60 लोग होटल में ही ठहरे थे। कुछ लोग खिड़की से कूद गए तो कुछ होटल में ही फंस गए। इसी बीच होटल विराट में एसी का कंप्रेशर फटने से तेज धमाके के साथ आग ने और विकराल रूप ले लिया।

वहीं अचानक लपटें उठती देख होटल कर्मी और बाहर के लोगों ने शोर मचाना शुरू किया तो भगदड़ मच गई। पर्यटक और होटल कर्मचारी भागे लेकिन तब तक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और बगल में स्थित विराट होटल भी इसकी चपेट में आ गया। एसएसजे होटल के एक कमरे से टीम ने बुरी तरह झुलसे व्यक्ति को निकाला लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुका था।

इसके बाद विराट होटल से भी शव निकाला गया। लपटें तेज होने के चलते कई लोग होटल से नहीं निकल पाए। होटल में फंसे लोगों को जब तक टीम निकालती तब तक कई लोग गंभीर रूप से झुलस गए। तत्काल उन्हें अलग-अलग अस्पताल में भर्ती कराया गया। रेस्क्यू टीम लोगों को निकालने में जुटी है।

माना जा रहा है कि एक धमाके के साथ होटल में आग लगी और देखते ही देखते पूरे होटल को चपेट में ले लिया। साथ ही यह भी बात सामने आ रही है कि मानकों को दरकिनार कर अवैध रूप से होटल चल रहा था। आग की वजहों का अभी पता नहीं चला है। कहा जा रहा है कि शार्ट सर्किट की वजह से आग लगी है। जिस वक्त आग लगी उस वक्त होटल में कई लोग मौजूद थे। घायलों को ट्रामा सेंटर भेजा गया है।

बताया जाता है कि हादसे में एक साल की बच्ची मेहर, एक महिला व तीन पुरुषों की जलकर मौत हो गई, जबकि अविनाश, सार्थक, इंद्रकुमार, आमिर, रानी समेत दर्जनभर लोग घायल हो गए। हालांकि आग की सूचना मिलते ही पंद्रह मिनट के अंदर ही दमकल पहुंच गई। 14 दमकलों से 4 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग को पूरी तरह से काबू कर लिया। आग बुझाने में 40 फायरमैन, 5 एफएसओ के साथ स्थानीय पुलिस भी लगी थी। जैसा कि बताया जाता है कि इस बचाव कार्य के दौरान तकरीबन आधा दर्जन फायरकर्मी भी घायन हो गए हैं।

एसएसपी दीपक कुमार भी मौके पर मौजूद पूरे ऑपरेशन की अगुवाई कर रहे हैं। दीपक कुमार ने बताया कि प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक करीब 5.30 बजे के करीब होटल से धुआं निकलने लगा। एसएसपी ने बताया कि मामले की जांच की जाएगी। एसएसपी ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह प्रतीत हो रहा है कि बेसमेंट में आग लगी और ऊपर की तरफ बढ़ी। हादसे के वक्त 35 से 40 लोग मौजूद थे। सभी को निकाल लिया गया। घटना के बाद से ही होटल प्रबंधन के लोग फरार हैं। जिसके बाद माना जा रहा है कि कहीं न कहीं लापरवाही हुई है।

इसके साथ ही आग लगने की सूचना मिलते ही मौके पर आइजी लखनऊ रेंज सुजीत कुमार पांडेय, एसएसपी दीपक कुमार, एएसपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी, डायरेक्टर फायर सर्विस पीके राव, डिप्टी डायरेक्टर जेके सिंह, सीएफओ एबी पांडेय समेत अन्य अधिकारियों ने सर्च ऑपरेशन के साथ घटनास्थल का मुआयना किया। हादसे के कारणों की जांच की जा रही है।

वहीं मौके पर पहुच कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जाशी ने मामले की मैजिस्ट्रीयल जांच कराये जाने की बात कही और साथ ही कहा कि हादसे की जांच रिपोर्ट एक हफ्ते में तैयार होगी। चारबाग के सभी होटलों में सुरक्षा और अतिक्रमण की जांच होगी। गंभीर रूप से झुलसे लोगों का हाल लेने भी लखनऊ के सिविल अस्पताल पहुंची। उन्होंने सभी को उत्कृष्ट चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने का निर्देश भी दिया है।

वहीं सीएफओ एबी पांडेय ने बताया कि दोनों होटलों में दमकल उपकरण नहीं थे। एसएसजे इंटरनेशनल को दमकल ने महीने भर पहले नोटिस भी दी थी। जबकि हादसे के बाद से एसएसजे इंटरनेशनल होटल के मालिक सुरेंद्र जायसवाल व विराट होटल के मालिक अर्पित जायसवाल और प्रतीक जायसवाल फरार हैं। इसके अलावा इस अग्निकांड पर एसएसपी दीपक कुमार ने बड़ा फैसला लिया है। दोनों होटल मालिकों के खिलाफ खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। अब एक महीने तक चारबाग के होटलों में फायर सेफ्टी का ऑडिट चलेगा।

हद की बात तो ये है कि लखनऊ में आज जिस होटल विराट तथा एसएसजे इंटरनेशनल में अग्निकांड हुआ है, इनका नक्शा भी पास नहीं है। होटल विराट का नक्शा तो आवास के नाम पर पास है जबकि एसएसजे इंटरनेशनल होटल का तो कोई नक्शा ही नहीं है। एसएसजे में 42 तथा होटल विराट में 27 कमरे हैं। दरअसल सिपाही भर्ती परीक्षा के कारण दोनों होटल के सभी कमरे भरे थे। होटल प्रांगण में खड़े दो चार पहिया वाहन (यूपी 78 सीवी 4984 तथा डीएल3सी बीजे 2108) भी आग में भस्म हो गए। एसएसजे इंटरनेशनल होटल में तो एक बार भी है।

Share this
Translate »