Tuesday , September 28 2021
Breaking News

सर्जिकल स्ट्राइक वीडियो पर कांग्रेस का वार, भाजपा ने किया जबर्दस्त पलटवार

Share this

नई दिल्ली। सर्जिकल स्ट्राइक के वीडियो जारी करने के बाद कांग्रेस और भाजपा के बीच जबर्दस्त जुबानी जंग जारी है इस दौरान जहां कांग्रेस ने भाजपा पर सर्जिकल सट्राइक का सियासी फायदा लेने का आरोप लगाया वहीं भाजपा ने कांग्रेस के बयान को पाकिस्तानी आतंकियों को खुश करने वाला बताया है।

गौरतलब है कि रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस के बयान के बाद आतंकी संगठन खुश है। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान किसी जवान को खरोंच तक नहीं आयी थी। ऐसे में सेना पर सवाल उठाना कांग्रेस को बंद कर देना चाहिए।

इसके साथ ही कानून मंत्री ने कहा कि बीजेपी पर सर्जिकल स्ट्राइक का राजनीतिक लाभ लेने की बात बेबुनियाद है। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि उत्तर प्रदेश और गुजरात चुनाव में वीडियो नहीं आया था। से में अगर कोई चुनाव नहीं तो इस पर राजनीति की बात गलत है। ऐसा कांग्रेस हताशा में बयान दे रही है।

वहीं कांग्रेस पर अपने हमले को और तेज़ करते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि वह सेना पर सवाल उठाना बंद करे। उन्होंने कहा कि जिस तरह का सर्जिकल स्ट्राइक पर कांग्रेस ने बयान दिया है उसके बाद उसे पाकिस्तान से सार्टिफिकेट मिलेगा। रविशंकर ने आगे कहा कि सेना के बजट को कम करने का भी कांग्रेस का आरोप पूरी तरह से निराधार है।

जबकि सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, चूंकि कांग्रेस इस तरह की वीडियो नहीं बना पाई क्योंकि उनके पास हैं ही नहीं है तो हम भी ऐसा ही नहीं कर सकते हैं। यह भाजपा के पक्ष में लोगों की भावनाओं का शोषण कैसे कर रहा है? अगर आपने ऐसा किया तो आपने छुपाया क्यों? यह पुरानी कहावत की तरह है कि अंगूर खट्टे होते हैं।

ज्ञात हो कि सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी किए जाने के बाद कांग्रेस ने सीधा बीजेपी पर हमला बोलते हुए उसे जवानों की बहादुरी का राजनीतिक फायदा लेने का आरोप लगाया था। कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला ने कहा, ‘मोदी सरकार जय जवान जय किसान के नारे का शोषण कर रही है और सर्जिकल स्ट्राइक पर वोट हासिल करने की कोशिश कर रही है। देश जानना चाहता है कि क्या अटल बिहारी वाजपेयी या मनमोहन सिंह के कार्यकाल में सेना के ऑपरेशन इस तरह से नहीं हुए थे? भाजपा ने भारतीय सेना के अधिकारियों को बिना बताए उनका राशन एक साल से बंद कर रखा है, मसाला भत्ता कम कर दिया गया है और रेजीमेंट भत्ता आधा कर दिया है।’

सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा के ही 2 नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्रियों (यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी) ने सवाल उठाए थे। यह भाजपा का अंदरूनी मामला है। बता दें कि कांग्रेस नेता संजय निरुपम और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कुछ नेताओं ने सर्जिकल स्ट्राइक के दावे पर सवाल उठाए थे।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »