Thursday , October 21 2021
Breaking News

13 जुलाई को साल का दूसरा सूर्य ग्रहण, 40 साल बाद बना ये खास संयोग

Share this

नई दिल्ली : साल का दूसरा सूर्यग्रहण 13 जुलाई को होने वाला है. इस ग्रहण को अंटाकर्टिका, तस्मानिया और ऑस्ट्रेलिया के दक्षिणी भाग में देखा जा सकता है, यह भारत में दिखाई नहीं देगा. इस ग्रहण पर पूरे 40 बाद खास संयोग बन रहे है, जो कुछ अच्छा तो कुछ बुरा प्रभाव देने वाला है. आज से 40 साल पहले यानी कि 13 दिसबंर दिन शुक्रवार को आंशिक ग्रहण लगा था जो अब 13 सितंबर 2080 को पड़ेगा.

नासा के मुताबिक ये एक खास संयोग है. धर्मशास्त्रियों के अनुसार ये ग्रहण भारत में प्रभावी नहीं है लेकिन इसका असर लोगों के जीवन पर होगा क्योंकि सूतक काल का असर राशियों पर पड़ता है.भारतीय समयानुसार सूर्य ग्रहण 13 जुलाई को सुबह 7 बजकर 18 मिनट 23 सेकंड से शुरू होगा, जो कि 8 बजकर 13 मिनट 5 सेकंड तक रहेगा.

आखिर सूर्य ग्रहण है क्या.
पृथ्वी अपनी धुरी पर घूमने के साथ-साथ अपने सौरमंडल के सूर्य के चारों ओर भी चक्कर लगाती है. दूसरी ओर, चंद्रमा दरअसल पृथ्वी का उपग्रह है और उसके चक्कर लगता है, इसलिए, जब भी चंद्रमा चक्कर काटते-काटते सूर्य और पृथ्वी के बीच आ जाता है, तब पृथ्वी पर सूर्य आंशिक या पूर्ण रूप से दिखना बंद हो जाता है. इसी घटना को सूर्य ग्रहण कहा जाता है. 

1. सूर्यग्रहण कभी भी नंगी आंखों से डायरेक्ट ना देखें. इससे आपकी आंखें डैमेज हो सकती है.
2. सूर्यग्रहण का नजारा देखने के लिए एक जगह पर सीधे खड़े हो जाएं और आंखों को ग्लास या सोलर व्यूवर से जरूर ढक लें. सूर्य से नजर हटाने के बाद सोलर फिल्टर /व्यूवर को जरूर हटाएं. सोलर फिल्टर वाले चश्मों को सोलर-व्युइंग ग्लासेस, पर्सनल सोलर फिल्टर्स या आइक्लिप्स ग्लासेस भी कहा जाता है.
3. आपके नॉर्मल चश्मे या गॉगल्स आंखों को यूवी रेज़ से सुरक्षित नहीं रख सकते. इसीलिए अपने ग्लासेस से सूर्यग्रहण देखने की कोशिश ना करें.
4. अगर आपके पास आंखों को बचाने के लिए कुछ भी ना हो तो सूर्यग्रहण के दौरान पीठ करके चलें.
5. सूर्यग्रहण के दौरान सूरज को पिनहोल, टेलेस्कोप या फिर दूरबीन से भी ना देखें.
6. अनफिल्टर्ड कैमरे से कभी भी सूर्यग्रहण की तस्वीरें न उतारें और न ही ऐसी कोई दूसरे डिवाइस का इस्तेमाल करें.
7. बहुत लोग सोलर फिल्टर लगाकर कैमरे से तस्वीर उतारते हैं, इसका असर भी आंखों के लिए खतरनाक हो जाता है. दरअसल कैमरे के लेंस और सोलर फिल्टर मिलकर किरणों को और तीव्र बना देती हैं जो हमारी आंखों को नुकसान पहुंचा देती हैं.
8. अगर आप नजर के चश्मे का इस्तेमाल करते हैं तो भी उसको ऊपर सोलर फिल्टर या इकलिप्स ग्लास जरूर पहनें.

 

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »