Thursday , October 21 2021
Breaking News

सोनिया पर विवादित टिप्पणी को लेकर, मायावती ने किया एक नेता को बाहर

Share this

लखनऊ। आगामी 2019 के लोकसभा चुनाव के मददेनजर और कांग्रेस से गुपचुप बढ़ती बहन जी की नजदीकियों का असर वहीं इस सबसे बेखबर उनकी पार्टी के ही एक नेता को अपना एक बयान बहुत भारी पड़ा। एक तरह से जरूरत से ज्यादा तेजी दिखाने की बलिहारी बहुजन समाज पार्टी के एक नेता को उस वक्त भारी पड़ी जब वो कांग्रेस की बरिष्ठ नेता सोनिया के खिलाफ ऐसी टिप्पणी कर बैठे जो बसपा सुप्रीमों मायावती को बेहद नागवार गुजरी और तुरंत ही उनको पार्टी के बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

गौरतलब है कि बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) अध्यक्ष मायावती ने जयप्रकाश सिंह को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ दिए बयान के चलते उन्हें पार्टी के राष्ट्रीय कॉर्डिनेटर पद से हटा दिया है। दरअसल जयप्रकाश सिंह ने बयान दिया था कि राहुल गांधी कभी भी देश के प्रधानमंत्री नहीं बन सकते हैं क्योंकि उनकी मां विदेश मूल की हैं।

दरअसल जय प्रकाश ने राहुल गांधी पर टिप्पणी करते हुए कहा था कि राहुल गांधी अपने पिता पर नहीं बल्कि अपनी मां पर गए हैं। उनके पिता देश के थे अगर वो भी उन पर जाते तो भला हो सकता था। लेकिन राहुल अपनी मां पर गए हैं और उनका खून विदेशी है जो भारत की राजनीति में कभी सफल नहीं होगा।

मायावती ने कहा कि मुझे बसपा राष्ट्रीय समन्वयक जय प्रकाश सिंह के भाषण के बारे में पता चला। जिसमें उन्होंने बसपा की विचारधारा के खिलाफ बात की और प्रतिद्वंद्वी दलों के नेतृत्व के खिलाफ व्यक्तिगत टिप्पणी भी की। यह उनकी व्यक्तिगत राय है। इसलिए, उन्हें तत्काल प्रभाव पद से हटा दिया गया है।

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों में भी, जब तक पार्टी के साथ गठबंधन की घोषणा नहीं की जाती है, बहुजन समाज पार्टी के सदस्यों को किसी भी स्तर पर गठबंधन के बारे में कुछ भी बोलने से बचना चाहिए। उन्हें इस बात को हाई कमान पर छोड़ देना चाहिए।

ज्ञात हो कि कल ही लोकसभा चुनाव में पार्टी की रणनीति को लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बीएसपी के राष्ट्रीय कॉर्डिनेटर जयप्रकाश सिंह ने सोमवार को कहा था- “मायावती का देश के प्रधानमंत्री बनने का सबसे सही समय है और सिर्फ वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को चुनौती दे सकती हैं।”

साथ ही उन्होंने आगे कहा- “वह सिर्फ एक दलित लीडर ही नहीं हैं बल्कि उन्हें सभी समुदायों का समर्थन हासिल है। अब समय आ गया है जब उन्हें 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद प्रधानमंत्री बनाया जाए।” राहुल गांधी जिन्हें कांग्रेस के प्रधानमंत्री के चेहरे के तौर पर माना जा रहा है, उसको लेकर सिंह ने कहा- राहुल अपने पिता की तुलना में अपनी मां की तरह ज्यादा दिखते हैं। और उनकी मां विदेश मूल की हैं, इसलिए वह कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बन सकते हैं।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »