Tuesday , April 23 2024
Breaking News

फारूख अब्दुल्ला के घर में घुसने वाला मारा गया, केरल भवन में भी चाकू के साथ घुसा युवक

Share this

नई दिल्ली। देश में आज के दिन हुई दो अलग-अलग घटनायें काफी चौंकाने वाली रहीं। दरअसल आज सुबह जहां  जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के जम्मू स्थित आवास पर घर के अंदर जबरदस्ती घुसते हुए एक शख्स को वहां पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने मार गिराया। वहीं दिल्ली के केरल भवन में उस वक्त जमकर तमाशा हो गया जब शनिवार को एक शख्स चाकू लेकर भवन परिसर के अंदर घुस आया और मुख्यमंत्री पिनारयी विजयन को मारने की धमकी भी देने लगा। हालांकि वहां पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने उसे धर दबोचा और वहां से बाहर कर दिया।

गौरतलब है कि आज सुबह जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के जम्मू स्थित आवास पर घर के अंदर जबरदस्ती घुसते हुए एक शख्स को वहां पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने मार गिराया। पुलिस ने कहा, “घुसपैठिया एक काले रंग की एसयूवी कार चला रहा था। वह बाहरी गेट से होकर गुजरा, उसने सुरक्षा घेरा तोड़ा लेकिन सुरक्षाबलों ने उसे रोक दिया। उसकी एक गार्ड के साथ हाथापाई भी हुई, जो हाथापाई के दौरान चोटिल हो गया।”

इतना ही नही इस बाबत पुलिस ने आगे कहा, “फिर उसने लॉबी में प्रवेश किया और संपत्ति को बबार्द करना शुरू कर दिया जिसके बाद उसे गोली मार दी गई। घुसपैठिए के पास से मिले पहचान पत्र में उसकी शिनाख्त पूंछ जिले के मोरिफत खान के रूप में हुई है।” जब घटना हुई तो फारुख अब्दुल्ला अपने आवास में मौजूद नहीं थे।

साथ ही जम्मू जोन के आईजी एसडी सिंह जमवाल ने बताया कि पूंछ जिले के रहनेवाले मुरफास शाह नाम का शख्स जबरदस्ती फारूक अब्दुल्ला के घर में घुसने का प्रयास कर रहा था। वह एसयूवी में बैठकर जबरदस्ती वीआईपी गेट से घुस आया। उसके पास कोई हथियार नहीं था। जांच अभी जारी है।

जबकि वहीं इस सिलसिले में मृतक के पिता ने बताया कि उसका बेटा बीती रात को उसके साथ था। वह रोजना जिम जाता था लेकिन आज नहीं गया। मैं जानना चाहता हूं उसे क्यों मारा गया? मृतक चालक के पिता ने सुरक्षाकर्मियों पर सवाल उठाया है। उन्होंने पूछा कि उस समय सुरक्षाकर्मी कहा थे जब वे गेट के पास पहुंचा? उन्होंने उसे गिरफ्तार क्यों नहीं किया?

वहीं सीआरपीएफ ने कहा कि मृतक ने उनकी चेतावनी नहीं सुनी। सीआरपीएफ की 38 वीं धारा के तहत हमने गाड़ी पर गोलीबारी की। शव को बरामद कर लिया गया है। इस घटना में सीआरपीएफ के एक जवान मामूली घायल हो गया है।

इसी प्रकार आज ही दिल्ली के केरल भवन में एक शख्स चाकू लेकर अंदर घुस आया और मुख्यमंत्री पिनारयी विजयन को मारने की धमकी देने लगा। यह शख्स कुछ कागजात के साथ वहां घुसा था और केरल के मुख्यमंत्री को मारने की धमकी दे रहा था। जिसके बाद फौरन वहां पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने उसे धर दबोचा और वहां से बाहर कर दिया।

हालांकि पुलिस और खुफिया अधिकारियों की जांच में पता चला कि वह शख्स मानसिक तौर पर विक्षिप्त था। इस युवक की पहचान 46 वर्षीय विमल राज के तौर पर हुई है। उसे गिरफ्तार कर एक एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

वहीं पुलिस के अनुसार कनॉट प्लेस के थाने में एक पीसीआर कॉल की गई और बताया गया कि एक अज्ञात शख्स अंदर घुसने की कोशिश कर रहा है। केरल के करिप्पुझा के कदावूर के रहनेवले विमल राज को केरल हाउस से हिरासत में ले लिया गया है। वर्मा ने आगे बताया- वह शख्स अपने साथ लाए डॉक्यूमेंट्स से यह साबित होता है कि वे 80 फीसदी मानसिक विक्षिप्त था। उसे कानून के मुताबिक शहादरा के आईबीएसएएस भेज दिया गया है।

Share this
Translate »