Monday , January 30 2023
Breaking News

…और जब राष्ट्रपति की भी हुई आंखें नम

Share this

नई दिल्ली। आज देश के इतिहास के पन्नों में एक और अविस्मरणीय पल उस वक्त जुड़ गया जब शहीद गरूड़ कमांडों जेपी निराला की पत्नि को सम्मानित कर पुरस्कार देने के दौरान भारत के प्रथम नागरिक की भी आखें भर भर आईं।

आज राष्ट्रपति कोविंद ने वायुसेना के शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को शांतिकाल के सबसे बड़े वीरता पुरस्कार अशोक चक्र से सम्मानित किया। शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को मरणोपरांत अशोक चक्र से नवाजा गया है। आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर उनकी पत्नी ने राष्ट्रपति से यह पुरस्कार प्राप्त किया। पुरस्कार देते वक्त राष्ट्रपति कोविंद भावुक भी हो गए।

 

Share this
Translate »