Monday , April 22 2024
Breaking News

करतारपुर कॉरिडोर का खोला जाना और सुरक्षा एजेंसियों को इस चिंता का सताना

Share this

नई दिल्ली। सिख धर्मावलंबियों की भावनाओं का ख्याल रखते हुए गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर तक जाने वाले रास्ते को खोले जाने और विकसित किये जाने को लेकर हालांकि कवायद जोर-शोर से जारी है। इस पर जहां पूर्व में पाक की तरफ से भी कथित तौर पर रूचि दिखाई थी वहीं अब तो केन्द्र सरकार ने भी इस कॉरिडोर को खोले जाने और विकसित करने में रुचि दिखाई है। जबकि इस सबके बीच देश की तमाम खुफिया तथा सुरक्षा एजेंसियां एक बेहद अहम बात को लेकर बेहद चिंतित हैं।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर तक जाने वाले रास्ते को खोले जाने और विकसित करने में रुचि दिखाई है। लेकिन सुरक्षा एजेंसियों को डर है कि इस मार्ग का दुरुपयोग भी हो सकता है। दरअसल पाकिस्तान में अभी भी खालिस्तान समर्थकों की तादाद काफी ज्यादा है और उन्हें पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई का समर्थन हासिल है। ऐसे में आशंका है कि इस कॉरिडोर का उपयोग करते हुए खालिस्तान समर्थक पंजाब के युवाओं को उग्रवाद के लिए उकसा सकते हैं।

इतना ही नहीं बल्कि इस मार्ग का उपयोग नशीली दवाओं की तस्करी के लिए भी किया जा सकता है। यह बेहद दुखद लेकिन सच है कि इस महान धर्मस्थल के क्षेत्र को पाकिस्तान में खालिस्तान और आईएसआई का प्रमुख केंद्र माना जाता है। यहां कई ब्लैकलिस्टेड खालिस्तानी आतंकियों के अड्डे आज भी सक्रिय हैं। अंग्रेजी अखबार मेल टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, करतारपुर कॉरिडोर खोलने के लिए पाकिस्तान की रजामंदी इस बात का सबूत है कि वह धार्मिक और मानवीय पहलु की आड़ में इस मार्ग से अपने घटिया मंसूबों को पूरा करना चाहता है।

इसी वजह से इस मार्ग को खोलने और विकसित करने को वो पूरी दुनिया में प्रचारित कर रहा है। पाकिस्तानी प्रोपेगैंडा यह कहता है कि वह शांति का पक्षधर है, इसीलिए वह भारतीय श्रद्धालुओं के लिए यह मार्ग खोलने को राजी हुआ है। ज्ञात हो कि हाल ही में पंजाब के मंत्री नवजोत सिद्धू पाकिस्तान के नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत करने इस्लामाबाद गए थे। वहां वे पाकिस्तानी सेना अध्यक्ष कमर जावेद बाजवा से गले मिले थे। वहीं जिक्र हुआ था कि सिख धर्मावलंबियों की भावनाओं का ख्याल रखते हुए गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर तक जाने वाले रास्ते को खोला जाना चाहिए।

Share this
Translate »