Friday , February 23 2024
Breaking News

फिर हिंसक हुआ आरक्षण आंदोलन, राजस्थान के धौलपुर हाइवे पर कई वाहनों में लगाई आग

Share this

नई दिल्ली। राजस्थान में एक बार फिर आरक्षण की आग जोर पकड़ रही है। जिसके चलते पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जरों का आंदोलन रविवार को तीसरे दिन भी जारी रहा। गुर्जर नेता दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर पटरियों पर बैठे हैं जिससे कई प्रमुख ट्रेनों को रद्द कर दिया गया हैं या उनके मार्ग में बदलाव किया गया है। वहीं बूंदी जिले के नैनवां में भी प्रदर्शनकारियों ने सुबह राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 148 पर जाम लगा दिया।

मिली जानकारी के मुताबिक धौलपुर हाइवे पर पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हुई है। इस झड़प के बाद वहां मौजूद लोगों ने जाम लगा दिया और कई वाहनों में आग लगा दी। बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकारी गुर्जर समुदाय द्वारा चलाए जा रहे आरक्षण आंदोलन का समर्थन कर रहे थे।

गौरतलब है कि गुर्जर नेता पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर शुक्रवार की शाम को सवाईमाधोपुर के मलारना डूंगर में रेल पटरी पर बैठ गए थे। आंदोलनकारियों और सरकारी प्रतिनिधिमंडल में शनिवार को हुई बातचीत बेनतीजा रही। राज्य सरकार द्वारा गठित समिति के सदस्य पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह और भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी नीरज के पवन ने शनिवार को गुर्जर नेता किरोडी सिंह बैंसला से बातचीत की लेकिन बैंसला अपनी मांग पर अडे रहे।

दरअसल गुर्जर समाज सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्‍थानों में प्रवेश के लिए गुर्जर, रायका रेबारी, गडिया, लुहार, बंजारा और गड़रिया समाज के लोगों को पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग कर रहा है। वर्तमान में अन्‍य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण के अतिरिक्‍त 50 प्रतिशत की कानूनी सीमा में गुर्जरों को अति पिछड़ा श्रेणी के तहत एक प्रतिशत आरक्षण अलग से मिल रहा है।

वहीं व्यस्त्तम दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग के अवरुद्ध होने से दर्जनों रेलगाड़यिों को मार्ग बदलकर चलाया जा रहा हैं वहीं कई रेलगाड़यों को रद्द एवं आंशिक रद्द किया गया हैं। रेल यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे ने हैल्प लाईन भी जारी कर गाड़ियों के बारे में जानकारी दी जा रही हैं।

Share this
Translate »