Wednesday , July 6 2022
Breaking News

केजरीवाल मुश्किल में मेडिकल रिपोर्ट में मुख्य सचिव से मारपीट की पुष्टि,

Share this

नई दिल्ली. दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश की मेडिकल रिपोर्ट में मारपीट की पुष्टि हुई है. आप विधायकों से मारपीट के आरोप के बाद मंगलवार को पुलिस ने दिल्ली के अरुणा आसफ अली अस्पताल में उनकी मेडिकल जांच कराई थी. रिपोर्ट में मारपीट की पुष्टि हुई है. इसके साथ ही दिल्ली सरकार के उस दावे की भी पाेल खुल गई, जिसमें अरविंद केजरीवाल ने मुख्य सचिव के साथ मारपीट के आरोप का खंडन किया था.

मुख्य सचिव के साथ हुई बदसलूकी और हाथापाई के मामले में आम आदमी पार्टी (AAP) के आधा दर्जन से अधिक विधायक बुरी तरह फंसते नजर आ रहे हैं. रिपोर्ट में पिटाई के चलते अंशु प्रकाश के चेहरे पर सूजन और होठ पर कट का निशान पाया गया है. इसके अलावा, चेहरे पर कट के निशान के अलावा, सूजन भी पाई गई है.

इससे पहले बुधवार दोपहर इसी मामले में एक आरोपी अोखला से विधायक अमानतुल्लाह खान ने भी पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया है. उन्हें दोपहर बाद कभी भी दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में पेश किया जा सकता है.

इससे पहले ओखला से AAP विधायक अमानतुल्लाह खान ने जामिया नगर थाने आत्म समर्पण किया. आत्म समर्पण करने से पहले विधायक ने मीडिया से बातचीत में उन्होंने उन मुख्य सचिव के आरोपों को निराधार बताया. विधायक ने कहा कि मुख्य सचिव के साथ मारपीट नहीं हुई है. खान ने कहा कि मुख्य सचिव भारतीय जनता पार्टी के इशारे पर काम कर रहे हैं.

केंद्र पर बोला हमला

ओखला से AAP विधायक ने कहा कि हम डरने वाले नहीं हैं. जनता हमारे साथ है. गृह मंत्रालय के दवाब में दिल्ली में हमारे साथ पहले दिन से साजिश हो रही है. उन्होंने दावा किया कि मारपीट का एक भी सबूत नहीं है. मंत्री और सलाहकार को पीटा गया, लेकिन उस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई. हम भी विधायक हैं. हमारी बात नहीं सुनी जा रही है.

वहीं, आम आदमी पार्टी (AAP) के विधायकों के साथ अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की भी मुसीबत बढ़ती दिखाई दे रही है. मुख्य सचिव से मारपीट मामले में दिल्ली पुलिस ने दिल्ली सीएम केजरीवाल के सलाहकार वीके जैन को हिरासत में ले लिया है.

सीएम अरविंद केजरीवाल के सलाहकार को हिरासत में लेने के मामले में पुलिस का कहना है कि वीके जैन से मामले को लेकर पूछताछ करनी है. हिरासत या गिरफ्तारी जैसी कोई बात अभी नहीं है.

आरोेप है कि वीके जैन ही वह शख्स हैं जिन्होंने मुख्य सचिव अंशु प्रकाश को केजरीवाल के आवास पर मीटिंग के लिए बुलाया था. बुधवार सुबह इस मुद्दे पर पत्रकारों ने केजरीवाल से बातचीत की कोशिश की, लेकिन वह बिना सवालों का जवाब दिए निकल गए.

बता दें कि इससे पहले मुख्य सचिव से मारपीट मामले में कार्रवाई करते हुए प्रकाश जारवाल को दिल्ली पुलिस ने मंगलवार आधी रात को गिरफ्तार कर लिया था. मुख्य सचिव ने शिकायत दर्ज कराई थी जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने देर रात प्रकाश जरवाल को गिरफ्तार किया. विधायक प्रकाश जारवाल के खिलाफ आईपीसी के सेक्शन 186, 353, 323, 342, 504, 506 (2) और 120 बी व 34 के तहत केस दर्ज किया गया था.

जानकारी के मुताबिक, देवली से विधायक जारवाल को पुलिस उनके आंबेडकर नगर आवास से गिरफ्तार कर सिविल लाइंस पुलिस स्टेशन ले गई जहां उनसे रात भर पूछताछ जारी रही. प्रकाश जारवाल को दोपहर 1 बजे के बाद तीस हजारी कोर्ट में पेश किया जाएगा.

Share this
Translate »