Monday , October 3 2022
Breaking News

राजस्थान में स्वाइन फ्लू का प्रकोप, 88 लोगों की गई जान

Share this

जयपुर. राजस्थान में स्वाइन फ्लू का प्रकोप खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. इस साल के दो महीने में ही राज्य में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की संख्या 88 पहुंच गई है. वहीं विधानसभा में एक विधायक का टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद 15 विधायकों की जांच कराई गई है.

जानकारी के मुताबिक, इस बीमारी से अब तक 976 लोग संक्रमित पाए गए हैं. कुछ दिनों पहले राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया था. साथ ही कहा था कि प्रदेश में स्वाइन फ्लू बहुत तेजी फैल रहा है.

स्वाइन फ्लू को रोक पाने में असफल होने के कारणों पर विचार-विमर्श करने के बाद बीमारी से प्रभावित इलाकों में टीमें रवाना की गईं. मरीजों को दवाएं दी जा रही हैं. अस्पतालों में स्वाइन फ्लू के मरीजों के लिए अलग से वार्ड बनाए गए हैं.

राजस्थान विधानसभा पहुंचा स्वाइन फ्लू

स्वाइन फ्लू का खतरा अब राजस्थान विधानसभा तक जा पहुंचा. मंगलवार को राजस्थान की एक और भाजपा विधायक स्वाइन फ्लू की चपेट में आ गई. खास बात यह रही कि एक दिन पहले ही रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बावजूद ये विधायक विधानसभा पहुंच गईं. अब सरकार उनके आस-पास बैठने वाले विधायकों और उनके सम्पर्क में आने वाले अन्य लोगों की स्क्रीनिंग करवा रही है.

राजस्थान मे भाजपा की विधायक अमृता मेघवाल स्वाइन फ्लू की चपेट में आई हैं. उनकी रिपोर्ट एक दिन पहले ही पॉजिटिव आई थी. मंगलवार को वे विधानसभा पहुंच गई. यहां कई लोगो से मुलाकात भी कर ली. बाद में जब बात सामने आई तो उन्हें वापस भेजा गया. चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ ने सदन में घोषणा की कि उनके परिवार में सभी की स्क्रीनिंग की जा रही है और परिजनों को एहतियात के तौर पर दवा भी दे दी गई है. उनके आस-पास बैठने वाले विधायकों और उनसे मिलने वाले लोगों की भी स्क्रीनिंग कराई जाएगी.

गौरतलब है कि अमृता मेघवाल राजस्थान की तीसरी भाजपा विधायक है जो स्वाइन फ्लू की चपेट में आई है. उनसे पहले कीर्ति कुमारी और नरपत सिहं राजवी इस रोग की चपेट में आ चुके हैं. इनमें से कीर्ति कुमारी की तो मौत भी हो चुकी है. इस रोग से राजस्थान में अब तक 88 से ज्यादा जानें जा चुकी हैं.

Share this
Translate »