Thursday , December 8 2022
Breaking News

पब्जी पर बैन लगाएगा तालिबान, कहा- हिंसा को बढ़ावा दे रहा है गेम

Share this

काबुल. तालिबान ने लोकप्रिय बैटल रॉयल गेम प्लेयरअननोन्स बैटलग्राउंड्स पर बैन लगाने की घोषणा की है। अगले तीन महीने में इस गेम को अफगानिस्तान में बैन कर दिया जाएगा और इसपर हिंसा को बढ़ावा देने के आरोप लगे हैं। पड़ोसी देश के टेलिकम्युनिकेशन मंत्रालय ने इस सप्ताह शरिया लॉ इनफोर्समेंट एडमिनिस्ट्रेशन और सुरक्षा सेक्टर के प्रतिनिधियों के साथ एक मीटिंग की और तय किया कि देश में अगले 90 दिनों के अंदर PUBG मोबाइल और टिकटॉक ऐप्स को बैन कर दिया जाएगा। 

अफगानिस्तान की समाचार एजेंसी खामा प्रेस के मुताबिक, PUBG मोबाइल गेम पर अगले तीन महीने के अंदर बैन लगेगा, वहीं टिकटॉक ऐप को एक महीने के अंदर बंद करने की बात कही गई है। अफगान सरकार ने देश के टेलिकम्युनिकेशन और इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स को बैन लागू करने के लिए फैसले की जानकारी दी गई है और तय वक्त दिया गया है। 
ढेरों इंटरनेट यूजर्स तालिबान के इस फैसले को लेकर मीम्स शेयर कर रहे हैं और मजाक उड़ा रहे हैं क्योंकि तालिबान ने हिंसा के दम पर ही अफगानिस्तान पर कब्जा किया है। वहीं, यह गेम को हिंसा को बढ़ावा मिलने की वजह बताते हुए बैन करना चाहता है। 

लोकप्रिय ऐप्स पर बैन की घोषणा से पहले तालिबान ने करीब 2.3 करोड़ वेबसाइट्स को अफगानिस्तान के नागरिकों के लिए बैन कर दिया है। सरकार का कहना था कि इस वेबसाइट्स पर अनैतिक कंटेंट दिखाया जा रहा था। तालिबान सरकार के संचार मंत्री नजीबुल्ला हक्कानी ने बताया कि लाखों वेबसाइट्स पर इसलिए बैन लगाना पड़ा क्योंकि वे बार-बार पेज बदल रही थीं और एक पेज बैन करने पर दूसरा ऐक्टिव हो जाता था।

अफगानिस्तान पहला देश नहीं है, जो PUBG मोबाइल पर बैन लगाने जा रहा है। भारत ने भी साल 2020 में इस गेम पर चाइनीज सर्वर्स में डेटा भेजने के चलते बैन लगाया था। इस गेम का इंडिया-ओनली वर्जन BGMI पिछले साल लॉन्च किया गया था, जिसे आखिरी तिमाही में प्रतिबंधित कर दिया गया है। वहीं, पाकिस्तान ने भी इस गेम पर हिंसा को बढ़ावा देने और बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाने के चलते बैन लगाया गया है।

Share this
Translate »