Monday , September 27 2021
Breaking News

राम मंदिर के लिए फिर एक बार, सभी हिन्दू बलिदान को रहे तैयार: विनय कटियार

Share this

लखनऊ। जैसे जैसे 2019 के लोकसभा चुनाव करीब आ रहे हैं वेसे वैसे राम मंदिर का मुद्दा फिर से जोर पकड़ने लगा है हालांकि कोर्ट में भी इस पर सुनवाई तेजी से होना तो शुरू हो ही चुकी है वहीं बावजूद इसके कुछ नेताओं द्वारा इस पर बढ़ चढ़ कर बयान दिया जाना भी जारी है जिसके चलते अब अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर बीजेपी नेता और सांसद विनय कटियार ने विवादित बयान दिया है। कटियार ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए सभी हिंदुओं को एक बार फिर बलिदान देने के लिए तैयार होना पड़ेगा।

गौरतलब है कि अयोध्या के रामकोट में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कटियार ने कहा कि आज राम मंदिर निर्माण के लिए हिंदुयों के बलिदान की आवश्यकता है। कटियार ने कहा कि इसके लिए किस तरह के बलिदान की जरुरत होगी ये तो खेर आने वाला समय ही बताएगा। कटियार ने कहा कि अब केवल बलिदान ही एकमात्र रास्ता बचा है जिससे राम मंदिर बन सकता है।

उन्होंने तत्कालीन मुलायम सिंह सरकार का हवाला देते हुए कहा कि उस समय भी हजारों लाखों कार सेवको ने अपना बलिदान दिया था तब जाकर के विवादित ढांचा गिराने में सफलता मिली थी। कटियार ने कहा कि भगवान श्रीराम अयोध्या में एक बार फिर बलिदान चाहते है ओर जिसके लिए सारे हिंदुओं को एक साथ आना ही होगा।

साथ ही इतिहास का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि मुगलों ना केवल हिंदुओं के मंदिरो को तोड़ा ब्लकि हिंदुओ को अपमानित भी किया। अब समय आ गया है कि सभी हिंदु एक साथ आए और शपथ ले कि जब तक अयोध्या में राम मंदिर नहीं बन जाता हम अपने इस वचन के लिए प्रतिबद्ध रहेंगे ओर इसके लिए चाहे हमें कितनी ही बड़ी कीमत क्यों ना चुकानी पड़े।

कटियार ने कहा कि अयोध्या में मस्जिदो की कोई कमी नहीं है। यहां तक विवादित जगह के आस-पास भी काफी मस्जिद मौजूद है। बावजूद इसके हमारे मुस्लमान भाई विवादित स्थल पर मस्जिद के निर्माण की जिद्द पर अड़े हुए है। कटिआर ने कहा कि यह केवल ओर केवल मुसलमानों की महाजिद है। ओर अब वक्त आ गया है कि सारे हिंदु मिलकर मुसलमानों की इस महाजिद को खत्म करे।

अयोध्या विवाद को कोर्ट के बाहर ही सुलझाने की श्री श्री रवि शंकर की कोशिशो पर तंज कसते हुए कटियार ने कहा कि जिन लोगो का मंदिर मसले से कुछ भी लेना देना नहीं है वह भी समझौते के लिए नये-नये उपाय लेकर आ रहे है लेकिन उसमें सफल नहीं हो रहे है।

कटियार ने कहा कि 2019-20 तक अयोध्या में विवादित स्थल पर राम मंदिर का काम शुरु हो जाएगा जिसे लेकर अभी से तैयारियां भी शुरु कर दी गई है। कटियार ने इस बात पर जोर देकर कहा कि अयोध्या में विवादित ढांचे पर आंदोलन के जरिए ही भव्य राम मंदिर निर्माण का काम हो पाएगा।

वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने भी एक समाचार चैनल के कार्यक्रम में कहा कि राममंदिर मुद्दा देश की भावना से जुड़ा हुआ है। वह आशावादी हैं और मानते हैं कि अयोध्या में भव्य राममन्दिर का निर्माण अवश्य होगा।

जानकारी के अनुसार सीएम योगी कहा कि इस मामले में सरकार पार्टी नहीं है। उच्चतम न्यायालय में मुकदमा सही दिशा में है। न्यायालय ने अनावश्यक याचिकाएं खारिज कर दी हैं। मामला न्यायालय में होने की वजह से इस पर संसद में चर्चा नहीं की जा सकती। उच्चतम न्यायालय पर विश्वास किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि रामजन्मभूमि का मामला राजनीतिक नहीं है। यह देश से जुड़ा मामला है। हम आशावादी हैं इसलिए मानते हैं कि संविधान के दायरे में रहकर रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण होगा।

 

 

 

 

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »