Tuesday , November 30 2021
Breaking News

CWG 2018 : भारत का स्वर्णिम सफर जारी, अब बैडमिंटन में भी बाजी मारी

Share this

गोल्ड कोस्ट। भारतीय बैडमिंटन टीम ने अपने जमाने के दिग्गज खिलाड़ी ली चोंग वेई की अगुवाई वाली और तीन बार की चैंपियन मलेशिया को आज यहां शिकस्त देकर राष्ट्रमंडल खेलों में पहली बार स्वर्ण पदक जीता।

सात्विक रंकीरेड्डी और अश्वनी पोनप्पा ने मिश्रित युगल मैच में पेंग सून चान और लियु योंग गोह को 21-14 15-21 21-15 से हराकर भारत को अच्छी शुरूआत दिलायी। इसके बाद किदाम्बी श्रीकांत ने तीन बार के ओलंपिक रजत पदक विजेता ली को सीधे गेम में 21-17 21-14 से पराजित किया।

रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की पुरूष युगल जोड़ी हालांकि गोह और वी कियोंग टान से 15-21 20-22 से हार गयी लेकिन शानदार फार्म में चल रही साइना नेहवाल ने सोनिया चीह को महिला एकल में 21-11 19-21 21-9 से हराकर मलेशिया की वापसी की उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

साइना की जीत के बाद एन सिक्की रेड्डी और अश्विनी की महिला युगल जोड़ी को खेलने की जरूरत नहीं पड़ी। कुल मिलाकर बैडमिंटन में स्वर्ण पदक जीतने के बाद तक भारत के प्रतियोगिता में कुल पदकों की संख्या 19 हो गई है। इसमें 10 स्वर्ण, 4 रजत और पांच कांस्य पदक हैं।

Share this
Translate »