Tuesday , August 9 2022
Breaking News

फिर एक बार अलका लांबा ने की हद पार, कहीं इनको भी न होना पड़े माफी नामे से दो-चार

Share this

डेस्क।  किसी को भी मर्यादा रहित आचरण शोभा नही देता और फिर ऐसा कोई व्यक्ति जिसका स्वंय अपना एक सामाजिक महत्व हो वो अगर एक संवैधानिक पद पर आसीन किसी व्यक्ति पर बराबर अपशब्दों और अमर्यादित वाक्यों का प्रयोग करे तो काफी हद तक ऐसा आचरण उसके मानसिक स्तर को बखूबी दर्शता है और उसका स्वंय का स्तर बताता है।

गौरतलब है कि दरअसल उत्तर प्रदेश में कुशीनगर के बिशनपुरा क्षेत्र में एक स्कूल वाहन मानव रहित रेलवे क्रासिंग पर ट्रेन से टकराने के कारण 13 बच्चों की मृत्यु हो गई और छह घायल हो गए। इस हादसे को लेकर विरोधी दलों के नेताओं ने योगी आदित्यनाथ के खिलाफ सोशल मीडिया पर तीखी प्रतिक्रिया दी। वहीं इस घटना पर फिर एक बार अपनी हद पार करते हुए दिल्ली मे आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा ने सोशल मीडिया पर योगी आदित्यनाथ को निकम्मा-नाकारा मुख्यमंत्री और बेऔलाद आदमी तक कह दिया।

ज्ञात हो कि अलका लांबा ने ट्वीट किया कि- देश मे 5000 क्रोसिंग्स हैं जिनकी वजह से रेल की दुर्घटनाएं होती हैं  यूपी का निकम्मा- नाकारा मुख्यमंत्री का कहना है कि हादसा गाड़ी के ड्राइवर के कानों में ईयर फोन लगाने के कारण हुआ। और तो और इसे कुशीनगर की जनता का गुस्सा  नोटंकी लग रहा था.. बेऔलाद आदमी। उधर अलका के बयान का तमाम सोशल मीडिया यूजर्स ने विरोध भी किया।

बेहद गंभीर बात है कि हाल के कुछ समय से जैसा कि आप विधायक अलका लांबा द्वारा उत्तर प्रदेश जैसे देश के अहम सूबे के मुखिया के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी किया जाना जारी है।  कहीं ऐसा न हो उनको इसके चक्कर में लेने के देने न पड़ जायें क्योंकि वैसे भी उनकी पार्टी में इधर ऐसे ही कुछ कारणों के चलते पहले गलती करने और फिर माफी मांगने का दौर चल रहा है। संभव है जल्द ही इनको भी ऐसी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है।

 

Share this
Translate »