Monday , May 16 2022
Breaking News

अल्पसंख्यकों से बोले CM मनोहर लाल खट्टर, ईदगाह या मस्जिद में पढ़े नमाज न कि सड़क पर

Share this

नई दिल्ली। हिंदूवादी संगठनों द्वारा दिल्ली से सटे गुरुग्राम में शुक्रवार की नमाज में बाधा डालने के विवाद ने उस वक्त और तूल पकड़ लिया जब इस मामले में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी शामिल हो गए और उन्होंने अल्पसंख्यकों से सड़क पर नमाज न पड़े जाने की भी अपील की।

मीडिया से बात करते हुए सीएम खट्टर ने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखना भी हमारा काम है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय में सड़को पर नमाज पढ़ने का प्रचलन तेजी से बढ़ा हैं। सीएम खट्टर ने कहा कि सार्वजनिक स्थानों पर नमाज पढ़ने की बजाय मस्जिद और ईदगाह में पढ़ी जानी चाहिए।

ज्ञात हो कि पिछले कुछ दिनों से हरियाणा के गुरुग्राम में कुछ हिंदूवादी संगठन शुक्रवार को अदा होने वाली नमाज के सड़क पर पढ़े जाने का विरोध कर रहे है। वहीं शुक्रवार के दिन अल्पसंख्यक समुदाय के लोग,अतुल कटारिया चौक,साइबर पार्क,इफको चौक, उद्दोग विहार में नमाज पढ़ने के लिए इकट्ठा हुए थे।

जिसके चलते सड़क पर नमाज का विरोध कर रहे कई हिंदूवादी संगठन भी विरोध में सामने आ गए। जिसके बाद इलाके में माहौल बिगड़ने की स्थति में आ गई थी। यहीं नहीं पिछले महीने भी यानी 6 अप्रैल को गुरुग्राम के वजीराबाद में भी कुछ लोगों ने सेक्टर 43 के मैदान में नमाज पढ़े जाने का विरोध किया था।  हालांकि इस मामले में पुलिस ने चुस्ती दिखाते हुए नमाज का विरोध करने पर 6 लोगों को हिरासत में लिया था।

दरअसल कथित हिंदू संघर्ष समिति के कार्यकर्ताओं पर सार्वजनिक स्थल पर नमाज पढ़े जाने का विरोध किया गया था। दरअसल हिंदू संघर्ष समिति की दलील है कि वे लोग सरकारी जमीन पर साजिशन उसे हथियाने के इरादे से नमाज पढ़ते हैं।

Share this
Translate »