Tuesday , May 24 2022
Breaking News

भाई ने तीन बहनों को गोली मारी, एक की हुई मौत और दो की हालत

Share this

लखनऊ। लोग किस कदर वहाशी होते जा रहे हैं ऐसा हम नही बल्कि जब तब सामने आते हादसे बता रहे हैं। इसी क्रम में अब प्रदेश के बदायु जनपद में एक ऐसा खैफनाक मामला सामने आया है जिससे आपके रौंगटे खड़े हो जायेंगे दरअसल यहां नशे के आदी एक वहशी भाई ने अपनी ही तीन सगी बहनों को गोली मार दी जिसमें एक की तो मौके पर ही मौत हो गई जबकि दो अन्य की हालत गंभीर बताई जाती है।

मिली जानकारी के मुताबिक बदायूं जनपद में रमजानपुर गांव के गढ़ी मोहल्ले के रहने वाले यामीन कुरैशी की पत्नी अफरोज बेगम ने पुलिस को तहरीर दी है कि उनके पुत्र राहत अली उर्फ आमीन कुरैशी ने रात में नशे में धुत होकर अपनी 3 सगी बहनों नाजरीन(16) खुशनसीब और यास्मीन को गोली मार दी।

जिस पर गोली लगने से नाजरीन की मौके पर ही मौत हो गई जबकि 2 बहनों को नाजुक हालत में जिला अस्पताल में दाखिल करवाया किया गया है, जहां से उनको बरेली रैफर कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि आमीन नशे का आदी है। उसके नशे की आदत की वजह से घर मे कलह रहती थी। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

बताया जाता है कि दरअसल मामला बुधवार की रात का है। बदायूं के कादरचौक में रहने वाला राहत हुसैन की बड़ी बहन का ससुराल में किसी बात पर विवाद हो गया था। जिसके बाद वह मायके चली गई। बुधवार की रात को राहत ने इस पर नाराजगी जताई। इसको लेकर विवाद हुआ मगर उस वक्त शांत कर दिया गया। रात करीब दो बजे उसकी तीन बहनें सो रही थीं। उसी दौरान राहत हुसैन कमरे में पहुंचा और उन पर ताबड़तोड़ गालियां चलना शुरू कर दिया। वारदात में 18 साल की नाजरीन की मौके पर मौत हो गई। एक गोली सीधे उसके सिर में जा धंसी। इसके अलावा दो अन्य बहनें यासमीन और खुशनसीब खून से लथपथ होकर गिर पड़ीं।

परिवार वालों ने गोली चलने की आवाज सुनी तो मौके पर दौड़े मगर तब तक आरोपित राहत हुसैन वहां से फरार हो चुका था। पुलिस को सूचना की गई जिसके बाद आनन-फानन दोनों घायल बहनों को बरेली रेफर कर दिया गया। वहां उनका निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। प्रकरण में मां ने अपने आरोपित बेटे के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस आरोपित की तलाश कर रही।

Share this
Translate »