Monday , May 16 2022
Breaking News

रमजान की ही तरह रही कश्मीर घाटी की ईद, फिर चले पत्थर सीमा पर हुआ जवान शहीद

Share this

श्रीनगर। बेहद ही अफसोसनाक और दर्दनाक बात है कि जहां एक तरफ लोगों ने देश भर में ईद के मौके पर आज आपस में गले मिलकर खुशियां बांटी वहीं आज ऐसे मुकद्दस मौके पर भी तमाम नापाक लोगों की हरकतों के चलते अशांत ही रही कश्मीर घाटी।  दरअसल आतंकियों के समर्थक इस मुबारक मौके पर भी हिंसा करने से बाज नहीं आये। जहां एक तरफ शनिवार को अनंतनाग में ईद की नमाज के बाद एक-दूसरे को मुबारक बात देने की बजाय पत्थरबाजी हुई और आतंकी संगठन ISIS के झंडे फहराए गए वहीं नौशेरा में पाकिस्तान ने संघर्ष विराम का उल्लंघन कर फायरिंग की जिसमें एक जवान शहीद हो गया।

गौरतलब है कि एक तरफ जहां इस समय पूरा देश ईद की खुशी मना रहा है। वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज आता हुआ नहीं दिख रहा है। ईद के मौके पर भी वह सीमा पर शांति नहीं चाहता है। इसी का नतीजा है कि जम्मू और कश्मीर के अअरनिया के चिनाज पोस्ट पर सुबह के 3.35 बजे पाकिस्तान की तरफ से स्नाइपर के दो राउंड फायर किए गए जबकि सुबह के 4.10 बजे पाक की तरफ से जरोयाल पोस्ट से पितल पोस्ट पर एमएमजी के दो राउंड फायर किए गए। दोनों पोस्टों पर तैनात जवानों ने जवाबी कार्यवाही की। फिलहाल स्थिति सामान्य है। वहीं नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान द्वारा संघर्ष विराम का उल्लंघन किए जाने से सिपाही बिकास गुरुंग शहीद हो गए हैं। पाकिस्तान की ओर से लगातार सीजफायर तोड़ने का असर ईद के मौके पर अटारी-वाघा बॉर्डर पर भी देखने को मिला। यहां इस बार बीएसएफ जवानों और पाकिस्तानी रेंजर्स के बीच मिठाई का आदान-प्रदान नहीं हुआ।

वहीं मिली जानकारी के मुताबिक मीडिया की खबरों के मुताबिक श्रीनगर के अनंतनाग में ईद की नमाज के बाद पत्थरबाजों ने सीआरपीएफ के जवानों पर पथराव कर दिया। उन्होंने आजादी के नारे लगाए और ISIS के झंडे फहराए गए। काफी देर तक बर्दाश्त करने के बाद जब हद पार हो गई तब सीआरपीएफ के जवानों को प्रतिक्रिया देने के लिए मजबूर होना पड़ा। उन्होंने हवाई फायरिंग की, भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए। जिसके बाद पत्थरबाजों ने सड़कों पर टायर जलाकर आगजनी की। इस मामले में कुछ लोगों के घायल होने की खबर है। वहीं एक नागरिक की मौत हो गई है। जिसकी पहचान अनंतनाग के शीराज अहमद के तौर पर हुई है।

हालांकि एसएपी पुलवामा मोहम्मद असलम चौधरी ने नौपुरा पायीन में सुरक्षाबलों की ओर से हिसक भीड़ पर गोली चलाने से एक युवक की मौत की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि गोली क्यों चली, इसकी छानबीन की जा रही है। जबकि रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि सेना के जवानों का एक गश्तीदल नौपुरा पायीन से गुजर रहा था। वहां सड़क पर कुछ वाहन खड़े थे, जिससे सड़क बंद हो गई थी। सेना के जवान ने सड़क पर खड़े वाहनों के मालिकों से आग्रह कर अपना वाहन निकालने का प्रयास किया।

इसी दौरान वहीं पास में आबिद मंजूर मागरे नामक एक ग्रामीण का मकान के आसपास कुछ ही देर में नारेबाजी करती वहां लोगों की भीड़ जमा हो गई। इन लोगों ने जवानों पर पथराव शुरू कर दिया। जवानों ने इन लोगों को खदेड़ने के लिए चेतावनी देते हुए हवा में गोली चलाई। जवानों ने किसी ग्रामीण के साथ कोई मारपीट या किसी ग्रामीण के घर में घुसकर तोड़फोड़ नहीं की है।

इसके अलावा सीमा सुरक्षा बलों ने सांबा सेक्टर की चक्का फकीरा पोस्ट के पास बीती रात को पाकिस्तान के दो नागरिकों को हिरासत में लिया है। इनकी पहचान सोहेल कुमार पुत्र मोहमम्द शरीफ निवासी चमाना कलां तहसील जफरवाल, जिला सियालकोट, उम्र 31 साल और दूसरे शख्स की पहचान अहमद पुत्र अल्लारखा निवासी चमाना कलां, उम्र 22 साल के तौर पर हुई है। इनके पास से पाकिस्तानी मुद्रा बरामद हुई है। सुरक्षाबल के अधिकारी इनसे पूछताछ कर रहे हैं कि आखिर वह कैसे क्षेत्र में पहुंचे।

Share this
Translate »