Monday , October 18 2021
Breaking News

बेरहम ससुरालीजनों ने मां और दो मासूम बच्चों को जिंदा जलाया

Share this

लखनऊ। हवस आज के लोगों के दिलों पर इस कदर हावी है कि उसके दुष्परिणाम समाज में सामने आना तय है वो हवस चाहे दौलत की हो या फिर तमाम और चीजों की। सच मानिए जब दिलो-दिमाग पर छा जाती है किसी भी चीज की हवस, तो फिर आदमी का रह नही जाता है खुद पर ही बस और फिर वो क्या न कर जाये। ऐसा ही कुछ एक मामला प्रदेश के जनपद इलाहाबाद में सामने आया जहां दौलत की हवस के चलते ससुराल वालों ने बहु ही नही बल्कि दो मासूम को भी जिंदा जला डाला।

मिली जानकारी के मुताबिक प्रदेश के जनपद इलाहाबाद के मांडा में पारिवारिक विवाद के बाद एक महिला और उसके दो मासूम बच्चों को जिंदा फूंक दिया गया। गुरुवार आधी रात पड़ोसियों ने मासूमों की चीखें सुनीं तो उनका दिल दहल उठा। पुलिस ने मृतका की मां की तहरीर पर पति समेत पांच के खिलाफ हत्या व दहेज हत्या का केस दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल सास-ससुर, जेठ-जेठानी को हिरासत में ले लिया गया है।

मांडा के कोईलारी गांव निवासी शिव बहादुर को रात में करीब दो बजे पड़ोसी राम खेलावन ने शिव बहादुर के घर से बच्चों के चीखने की आवाज सुनीं तो चौंककर उठ गया। उसने पड़ोसी शंकर लाल को भी बुला लिया। पड़ोसी भागकर शिव बहादुर के घर पहुंचे। उस वक्त कमरे से धुआं निकल रहा था। कमरे में चारपाई के नीचे गीता और उसके दोनों बच्चों की जली हुई लाश पड़ी थी। इस घटना से वहां हड़कंप मच गया।

वहीं इतने खौफनाक मामले की जानकारी मिलते ही ग्राम प्रधान भी थोड़ी देर में पहुंच गए। वारदात की जानकारी गीता की मां लालती देवी निवासी मिर्जापुर को दी गई। शुक्रवार सुबह लालती देवी मांडा पुलिस के साथ मौके पर पहुंची और ससुरालवालों पर ही दहेज हत्या का आरोप लगाया। तीहरे हत्याकांड की सूचना मिलते ही आईजी रमित शर्मा भी मौके पर पहुंचे और फोरेंसिक टीम की मदद से पड़ताल की। कमरे में कोई दूसरा सामान नहीं जला था। वहीं मिट्टी का तेल रखा था।

गीता के ससुरालवालों का कहना था कि उसने आत्महत्या की है। पुलिस ने गीता की मां की तहरीर पर पति, सास-ससुर, जेठ व जेठानी के खिलाफ दहेज हत्या व हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। फिलहाल पति के अलावा अन्य आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि तीनों की मौत जलने से ही हुई है।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »