Saturday , April 13 2024
Breaking News

तलाक पीड़िताओं ने मनाया जश्न-ए-आजादी, राष्ट्रगान गाया मांगी कुरीतियों से आजादी

Share this

लखनऊ। मुस्लिम समाज में व्याप्त कुरितीयों तीन तलाक और हलाला के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करने वाली तमाम पीड़िताओं ने आज प्रदेश के जनपद बरेली में कई जगह देश की आजादी के 72वें जश्न के मौके पर न सिर्फ बखूबी झण्डारोहण किया बल्कि राष्ट्रीय ध्वज हाथ में लेकर इन कुरीतियों से जल्द ही आजादी दिलाने की दुआ भी की।

गौरतलब है कि तीन तलाक, हलाला और बहुविवाह जैसे उत्पीड़न का शिकार महिलाओं ने स्वतंत्रता दिवस पर हाथों में तिरंगा लेकर तलाक और हलाला से आजादी मांगी। स्वतंत्रता दिवस पर महिलाओं ने जगह-जगह प्रोग्राम किए और रैलियां भी निकाली। राष्ट्रगान से लेकर हिंदुस्तान जिन्दाबाद के नारे गूंजे।

मिली जानकारी के मुताबिक मेरा हक फाउंडेशन के बैनर तले मोहल्ला गढ़ैया स्थित तमाम तीन तलाक, हलाला और बहुविवाह पीड़िताओं ने स्वतंत्रता दिवस को धूमधाम से मनाया। पीड़िताओं ने राष्ट्रीयगान, गीत के साथ-साथ यह भी शपथ ली कि तीन तलाक, हलाला से मुक्ति दिलाई जाए।

इस दौरान मेरा हक फाउंडेशन की अध्यक्ष फरहत नकवी के साथ तमाम महिलाओं ने शपथ ली और स्वतंत्रता दिवस को धूमधाम से मना कर एक दूसरे को मिठाईयां खिलाई। फरहत ने कहा कि जश्ने आजादी पर पीड़ित महिलाओं को तलाक से आजादी दिलाने की मांग महिलाओं ने की है। प्रोग्राम के बाद महिलाओं ने रैली भी निकाली।

इतना ही नही इस मौके पर आला हजरत हेल्पिंग सोसाइटी की अध्यक्ष निदा खान की अगुवाई में तमाम पीड़िता महिलाओं ने तलाक से आजादी दिलाने के नारे लगाए।निदा खान ने बताया कि पीड़ित महिलाओं ने आजादी के जश्न को धूमधाम से मनाया। केंद्र और राज्य सरकार से तलाक पीड़िताओं को इंसाफ दिलाने की मांग रखी।

Share this
Translate »