Sunday , May 22 2022
Breaking News

इन्वेस्टर्स समिट से कुछ नहीं मिलेगा, पहले कानून व्यवस्था सुधारें योगीः मायावती

Share this

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर उसकी महत्वाकांक्षी ’इन्वेस्टर्स समिट’ को लेकर आज निशाना साधा। मायावती ने लखनऊ में हुई ’इन्वेस्टर्स समिट’ पर प्रतिक्रिया में कहा कि महाराष्ट्र तथा कई अन्य राज्यों के बाद अब उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार पर भी ‘इन्वेस्टर्स समिट’ का बुख़ार चढ़ गया है। पूरी सरकार इसे ही सबसे बड़ी जनसेवा मानकर व्यस्त रही और सरकारी धन को पानी की तरह बहाया गया।

उन्होंने कहा कि कि उद्योग-धंधे लगवाने के लिये कानून-व्यवस्था का दुरुस्त होना जरूरी है मगर मौजूदा हालात में तो ऐसा नहीं लगता कि निवेशक यहाँ आने में कोई खास रुचि लेंगे। ऐसे में यह समिट केवल राजनीतिक अखाड़ेबाजी और शो बाजी साबित होगा। मायावती ने कहा कि प्रदेश सरकार को कई सौ करोड़ रूपये व्यर्थ में खर्च करके ‘इन्वेस्टर्स समिट’ करने से पहले प्रदेश की कानून-व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त करना चाहिये था। इस धन से ग़़रीबों, मजदूरों तथा बेरोजगार युवाओं तथा बाकी जनता के कल्याण के लिए अनेक महत्वपूर्ण काम किये जा सकते थे। बसपा प्रमुख ने आरोप लगाया कि इन्वेस्टर्स समिट भाजपा सरकार की घोर नाकामियों से ध्यान हटाने का जरिया भी बन गयी है। उन्होंने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार, दोनों ही अपनी वादाखिलाफी के कारण जनता का भरोसा खो चुकी हैं।

Share this
Translate »